Karnal Latest News

  1. Home
  2. Karnal Latest News

News Around Karnal

जागरण संवाददाता, करनाल : समाज में समता लाने के लिए वरिष्ठ अधिवक्ता जगमाल सिंह जटैन लगातार संघर्ष कर रहे हैं। लोगों को अधिकार दिलाने के लिए वह लगातार प्रयासरत रहते हैं। अधिकारों के बीच में बाधा बनने वालों के खिलाफ वह डट जाते हैं। फिर चाहे न्यायिक लड़ाई हो या फिर सरकारी स्तर पर अधिकारियों से पीड़ित की बात पहुंचानी हो। वह पीछे नहीं हटते हैं। जब तक पीड़ित को उसका अधिकार नहीं दिलाते, वह खामोश नहीं रहते हैं।

जब अन्याय के खिलाफ लड़ी लड़ाई

जगमाल सिंह जटैन ने छात्र जीवन में ही अन्याय के खिलाफ आवाज उठानी शुरू कर दी थी। वकालत की पढ़ाई के बाद करनाल में प्रेक्टिस शुरू की तो कुरुक्षेत्र में एक व्यक्ति का मर्डर हो गया। उन्हें जैसे ही इस बात का पता चला तो वह मौके पर पहुंच गए। बिना किसी बात की परवाह किए वह हथियारबंद लोगों के बीच में पहुंचे। हथियारबंद लोग भी यह देखकर हैरान थे कि उनकी दबंगई के सामने एक नौजवान डट गया है। इस मामले को उन्होंने अदालत के माध्यम से लड़ा और पीड़ित पक्ष को इंसाफ दिलाया।

जागरण संवाददाता, करनाल : जीटी रोड से नई अनाजमंडी की ओर जा रहे एक स्कूटी सवार पर बाइक सवार युवकों ने हमला कर दिया और 14 हजार 500 रुपये छीन लिए। निसिग वासी सचिन ने बताया कि वह करनाल सेक्टर आठ से नई अनाज मंडी की ओर जा रहा था। वह अनाजमंडी के समक्ष पुल के नीचे पहुंचा ही था कि उसके पीछे लगे बाइक सवार तीन युवक पहुंच गए। उन्होंने उसे घेर लिया और हमला कर दिया। आरोपित उससे उक्त राशि छीनकर फरार हो गए। जाते समय भी उस पर ईंट से हमला कर दिया। उन्होंने बताया कि आरोपितों ने बाइक की नंबर प्लेट पर मिट्टी लगाई हुई थी। इनमें से एक आरोपित बाइक स्टार्ट कर तैयार रहा तो दो आरोपितों ने वारदात को अंजाम दिया। इनमें से आरोपित आपस में बातचीत भी कर रहे थे कि छीनी गई राशि रात को आपस में बांट लेंगे। पुलिस ने शिकायत के आधार पर तीनों आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया है।

जागरण संवाददाता, करनाल

चुनाव तहसीलदार सुनील कुमार ने बताया कि जिला में 25 जनवरी को राष्ट्रीय मतदाता दिवस कुमारी विद्यावती डीएवी कॉलेज रेलवे रोड में मनाया जाएगा। इस दिवस पर उपायुक्त निशांत कुमार यादव द्वारा निर्वाचन प्रतिस्पर्धा में भाग लेने वाले प्रतिभागियों को प्रोत्साहित किया जाएगा। वे शुक्रवार को लघु सचिवालय स्थित जिला निर्वाचन कार्यालय में राजनीतिक पार्टी के प्रतिनिधियों को संबोधित कर रहे थे। उन्होंने बताया कि हरियाणा विधानसभा आम चुनाव 2019 के दौरान बनाए गए सहायक मतदान केन्द्रों को सामान्य मतदान केन्द्रों में स्थानांतरित करने के बारे में आयोग को प्रस्ताव भेजा गया है। उन्होंने बताया कि विधानसभा आम चुनाव के तहत 21 करनाल विधानसभा निर्वाचन क्षेत्र में मतदान क्रमांक क्षेत्र के 176 के मतदाताओं की संख्या ज्यादा होने के कारण दो बूथों में विभाजित कर दिया गया था, जिन्हें अब वापिस साधारण बूथ में स्थानांतरित किया जाना है। उन्होंने बताया कि 1 जनवरी, 2020 को क्वालिफाइ तिथि मानकर फरवरी माह में मतदाता सूचियों के पुनरीक्षण का कार्यक्रम करवाया जाएगा। इसमें सभी मतदाताओं के दावे व आपत्तियां प्राप्त की जाएंगी।

जागरण संवाददाता, करनाल : पुलिस ने गुप्त सूचना के आधार पर कार्रवाई करते हुए क्रिकेट मैच पर सट्टा लगाते हुए दो आरोपितों को काबू किया है। डिटेक्टिव स्टाफ इंचार्ज निरीक्षक विजय कुमार को गुप्त तरीके से सूचना प्राप्त हुई। जिसके संबंध में उन्होंने एएसआइ देवेंद्र कुमार की अध्यक्षता में एक टीम तैयार की, जिसने दोपहर करीब साढ़े बारह बजे चार चमन से दो आरोपितों स्वर्ण कुमार वासी बिजना व गौरव वासी बसताड़ा को गिरफ्तार किया। वे आस्ट्रेलिया में चल रही बिग बैस क्रिकेट लीग के एक मैच पर मोबाइल फोन व एलईडी के माध्यम से सट्टा खेल रहे थे। यह मैच हाबोर्ट और एडीलएड की टीमों के बीच खेला जा रहा था व सट्टा की रकम व दांव फोन पर ही तय हो जाते थे और मैच का निर्णय होने के बाद जीत या हार की राशि का लेनदेन होता था। आरोपितों से सट्टे के समय प्रयोग किया गए एक एलइडी टीवी व दो मोबाइल भी बरामद किए हैं। आरोपितों के खिलाफ मामला दर्ज कर लिया गया है।

जागरण संवाददाता, करनाल :

गणतंत्र दिवस समारोह के कार्यक्रम में पीटी शो प्रस्तुत करने वाले स्कूली बच्चे पूरे उत्साह के साथ अपना प्रदर्शन करने के लिए तैयार हैं। सोमवार को नई अनाज मंडी में लगभग 3000 बच्चों ने पीटी शो का जमकर अभ्यास किया। उनके इस अभ्यास का अवलोकन जिला शिक्षा अधिकारी रविद्र चौधरी ने किया। इस मौके पर उन्होंने विभिन्न स्कूलों से बच्चों के साथ आए डीपीई को निर्देशित करते हुए कहा कि बच्चों के प्रदर्शन में किसी भी प्रकार की कमी नहीं आनी चाहिए। जिन बच्चों का प्रदर्शन कहीं कम है उन्हें बार-बार अभ्यास करवाएं और 26 जनवरी को शानदार प्रस्तुति के लिए तैयार करें। पीटी व डंबल लेजियम शो में विवेकानंद उच्च विद्यालय के विद्यार्थियों का बैंड रहा। उन्होंने बताया कि सांस्कृतिक कार्यक्रमों में दयाल सिंह पब्लिक स्कूल सेक्टर-7, दून इंटरनेशनल, माता प्रकाश कौर वाणी एवं श्रवण दिव्यांग स्कूल, दिल्ली पब्लिक स्कूल, ओपीएस विद्या मंदिर, टैगोर बाल निकेतन, मोंट फोर्ट पब्लिक स्कूल को 21 जनवरी को होने वाली रिहर्सल के लिए चयनित किया गया है। 26 जनवरी गणतंत्र दिवस पर प्रस्तुति देने वाली सांस्कृतिक टीमों का फाइनल चयन 21 जनवरी आज मंगलवार को होगा। राजकीय कन्या वरिष्ठ माध्यमिक विद्यालय रेलवे रोड व मॉडल टाउन तथा टैगोर बाल निकेतन स्कूल की छात्राएं हरियाणवीं संस्कृति को प्रदर्शित करती प्रस्तुति देंगी। इस मौके पर डीपीई संगीता, डीपीई बलवंत सिंह, राकेश राठौर, डीपीई कमल शर्मा, डीपीई रोशन लाल, विवेकानंद उच्च विद्यालय से डीपीई अमित शर्मा सहित भारी संख्या में बच्चे मौजूद रहे। दूसरी ओर होमगार्ड की टुकड़ी ने भी प्लाटून कमांडर शमशेर सिंह के नेतृत्व में जमकर अभ्यास किया।

जागरण संवाददाता, करनाल : राज्य सरकार के करोड़ों रुपये खर्च करने के बावजूद प्रबंधन की लापरवाही से कल्पना चावला मेडिकल कॉलेज में मरीजों को परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। व्यवस्था के नाम पर ओपीडी में किए जा रहे प्रयोगों से मरीजों को समय से न तो इलाज मिल रहा है और न ही जांच के बाद दवा। वरिष्ठों की लाइन तो अलग से लगा दी गई, लेकिन दवा बांटने के लिए कर्मचारी की संख्या कम पड़ रही है। बुजुर्गो को इलाज के लिए प्रबंधन की अव्यवस्था की परीक्षा को पास करने में मुश्किल हो रही है। लाचारी की हालत में अगर बुजुर्ग कुर्सी पर बैठते हैं तो उनका नंबर कट हो जाता है और दवा लेने में दो घंटे बाद नंबर लग रहा है।

गणतंत्र दिवस की तैयारी में साहब ही नहीं, यूं तो पूरा प्रशासनिक अमला जी-जान से जुटा है, लेकिन साहब दिल ही दिल में चाहते हैं कि रिहर्सल के खेल-खेल में लगे हाथ अपना रिपोर्ट कार्ड भी सुधार लें। लिहाजा, हर रोज सुबह सवेरे खुद ही रिहर्सल की मॉनीटरिग का मोर्चा संभाल लेते हैं। अब भला उन्हें क्या खबर थी कि इसी सिलसिले के बीच ही बिन बुलाए मेहमान की तर्ज पर कैमरे वाले भी अचानक उनके बीच आ धमकेंगे। बस, फिर क्या था, साहब किसी तेजतर्रार अफसर की तर्ज पर न केवल खुद पूरी तरह अलर्ट हो गए, बल्कि सामने तमाम शिक्षकों को भी एक साथ सामने खड़ा करके तमाम हिदायतें देनी शुरू कर दी, ताकि कम से कम कैमरे में तो सब कुछ चाक-चौबंद नजर आ सके। कागजों में खड़ी इमारतें गिरनी शुरू हो गई

प्रदीप शर्मा, करनाल

स्मार्ट सिटी के मल्टी लेयर पार्किंग के बाद मुगल कैनाल फेज टू और थ्री का प्रोजेक्ट भी खटाई में पड़ सकता है। मुख्यमंत्री मनोहर लाल ने इस प्रोजेक्ट का रिव्यू करने के निर्देश दिए हैं। सीएम के साथ प्रधान सचिव उमा शंकर की हुई बैठक में प्रोजेक्ट का रिव्यू कर फिर से रिपोर्ट सबमिट करने के निर्देश दिए गए हैं। स्मार्ट सिटी की आस को लेकर बैठे शहरवासियों के लिए यह दूसरा बड़ा झटका हो सकता है। प्रोजेक्ट रिव्यू करने के पीछे कारण क्या हैं, यह तो अभी स्पष्ट नहीं है, लेकिन निगम का मानना है कि प्रोजेक्ट की लागत दो सौ करोड़ से अधिक होने के कारण यह फैसला लिया गया है। प्रोजेक्ट की लागत कैसे कम की जाए, इसे लेकर प्रोजेक्ट पर मंथन करना जरूरी हो गया। रिव्यू का यह फैसला उस समय हुआ है जब यह अंतिम चरण में था। मुगल कैनाल फेज-दो व तीन को विकसित करने के लिए टेंडर तक आमंत्रित किए जा चुके थे। अब ऐसे में रिव्यू होता है, तो करीब पांच साल की मेहनत पर पानी फिर जाएगा। नए सिरे से अधिकारियों की वर्किंग शुरू होगी। सबसे अहम सवाल : करीब पांच साल बाद रिव्यू की क्यों जरूरत पड़ी?

अश्विनी शर्मा, करनाल :

कर्णनगरी में सार्वजनिक शौचालयों में अवैध वसूली जोरों पर है। मजबूरी में लोग दो से पांच रुपये तक शौचालयों में लगे कर्मचारी को देकर ही आगे कदम बढ़ा पाते हैं। नगर निगम का कहना है कि उनकी ओर से किसी भी शौचालय में शुल्क नहीं वसूला जा रहा है, जबकि उनके इस्तेमाल पर वसूली की जा रही है। ऐसे में सवाल खड़ा होता है कि प्रतिदिन शौचालय से अवैध वसूली से एकत्रित होने वाली राशि कौन डकार रहा है? इसके जवाब में नगर निगम के तमाम अधिकारी मौन हैं। जाहिर तौर पर उनकी खामोशी में ही इस अवैध वसूली के राज छुपे हैं।

विकास सदन में साढ़े चार महीने बाद मंगलवार को होने वाली नगर निगम हाउस की बैठक हंगामेदार होने वाली है। पार्षदों में कमिश्नर को लेकर पार्षदों में रोष बना हुआ है। कई पार्षदों ने तो सदन की बैठक में विरोध करने का ऐलान तक कर दिया है। ऐसी बैठक कमिश्नर के इम्तिहान से कम नहीं है। देखना होगा कि बैठक में उठने वाले सवालों का सामना कमिश्नर किस तरह से करते हैं। दूसरी ओर कुछ पदाधिकारी हंगामे को टालने के प्रयास में जुटे हैं।

बता दें 27 अगस्त के बाद 21 जनवरी को सुबह 11 बजे निगम की बैठक का आयोजन हो रहा है। बैठक में सात एजेंडे शामिल किए गए हैं। इन एजेंडों से इतर कमिश्नर के कामों से पार्षदों की नाखुशी भी बैठक का हिस्सा हो सकती है। पार्षदों ने पिछली बैठक में भी कमिश्नर के खिलाफ रोष जताया था। अब यह बैठक साढ़े चार माह के बाद हो रही है। बैठक को लेकर जहां पार्षदों ने तैयारी कर ली है, वहीं आयुक्त और उनके अधिकारी भी आरोपों का जवाब देने के लिए तैयार हैं।